Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan | पीएम मोदी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज | आत्मनिर्भर भारत अभियान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | आत्म निर्भर योजना लाभ | Atma Nirbhar Bharat

आपदा को अवसर में बदलने के लिए माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा आज दिनांक 12 मई 2020 को राष्ट्र को संबोधित करते हुए एक राहत पैकेज, आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत की है कोविड-19 महामारी संकट से लड़ने में आत्मनिर्भर भारत अभियान (Aatm Nirbhar Yojana)  निश्चित रूप से एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा और एक आधुनिक भारत की पहचान बनेगा | पीएम मोदी राहत पैकेज जोकि आत्मनिर्भर भारत अभियान है के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा 20 लाख करोड़ रुपए जो देश की जीडीपी का लगभग 10% है घोषित किया है |

 
आत्मनिर्भर भारत अभियान

Table of Contents

Aatm Nirbhar Yojana- आत्म निर्भर योजना

इस योजना अथवा अभियान का उद्देश्य 130 करोड़ भारतवासियों को आत्मनिर्भर बनाना है ताकि देश का हर नागरिक संकट की इस घड़ी में कदम से कदम मिलाकर चल सके और कोविड-19 की महामारी को हराने में अपना योगदान दे सके| प्यारे देशवासियों एक समृद्ध और संपन्न भारत के निर्माण में आत्मनिर्भर भारत अभियान निश्चित ही महत्वपूर्ण योगदान देगा प्रधानमंत्री आर्थिक राहत पैकेज में सभी सेक्टरों की दक्षता बढ़ेगी और गुणवत्ता भी सुनिश्चित होगी | इस योजना के ज़रिये देश की अर्थ व्यवस्था को 20 लाख करोड़ रूपये का संबल मिलेगा |

आत्मनिर्भर भारत अभियान नई अपडेट

हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए US-इंडिया बिजनेस काउंसिल (USIBC) द्वारा आयोजित इंडिया आइडियाज शिखर सम्मेलन में भाषण दिया। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में मोदी जी ने कहा है कि पिछले छह वर्षों के दौरान हमने अपनी अर्थव्यवस्था को अधिक सुधार योग्य बनाने के लिए कई प्रयास किए हैं। इन सुधारों की वजह से प्रतिस्पर्धात्मकता, पारदर्शिता, डिजिटाइजेशन, इनोवेशनऔर पॉलिसी स्थिरता बढ़ी है। और उन्होंने कहा है कि भारत आपको स्वास्थ्य सेवा में निवेश करने के लिए आमंत्रित करता है। भारत में हेल्थकेयर सेक्टर हर साल 22.प्रतिशत से भी अधिक तेजी से बढ़ रहा है। इस अभियान के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय के विशेषज्ञों ने छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के तनाव को दूर करने के लिए पहली मनोवैज्ञानिक मनोदर्पण गाइडलाइन बनायी है।

Aatmnirbhar Bharat Toll Free Number

केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत के तहत स्कूल और उच्च शिक्षण के छात्र टोल फ्री नंबर 8448440632 जारी किया है। इस टोल फ्री नंबर कि सहायता से देश के लोग अपने बच्चो कि पढाई में कोई परेशानी आती है तो वह इस टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने मंगलवार को इस मनोदर्पण योजना की शुरुआत की। इससे पहले केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 17 मई को आत्मनिर्भर भारत के तहत मनोदर्पण शुरू करने की घोषणा की थी।

आत्मनिर्भर भारत ऍप

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने लिंक्डइन की पोस्ट के लिंक को साझा करते  हुए 4 जुलाई 2020 को  ट्वीट करते हुए @GoI_MeitY और @AIMtoInnovate  आत्‍मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज को लॉन्च किया है | आत्मनिर्भर भारत ऍप को आत्‍मनिर्भर भारत मिशन के तहत स्‍टार्ट-अप और टेक कम्‍युनिटी की मदद के लिए लांच किया गया है | इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री ने भारतीय ऐप निर्माताओं और नवोन्मेषकों को प्रोत्साहित के लिए इस ऍप को शुरू किया गया है | इस ऍप के माध्यम से देश के युवाओ को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया जायेगा |मोदी ने कहा कि भारत में एक गतिशील प्रौद्योगिकी और स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी तंत्र है जिसने भारत को राष्ट्रीय ही नहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गौरवान्वित किया है |

आत्मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज

भारत ने डिजिटल स्‍ट्राइक करते हुए चीन के 59 ऐप्‍स को बैन कर दिया है जिसके बाद भारत सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत ऍप को लॉन्च किया गया है |आत्मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज दो ट्रैक पर काम करेगा | ट्रैक-1 मिशन मोड में काम करते हुए अच्‍छी क्‍वालिटी के ऐप्‍स की पहचान करेगा |ट्रैक-2 के तहत नए ऐप्‍स और प्‍लेटफॉर्म बनाने के लिए आइडिएशन के स्‍तर से लेकर के बाजार की पहुंच तक सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी | इस ऍप  के माध्यम से मौजूदा ऐप्‍स को प्रोत्‍साहन. ई-लर्निंग, वर्क फ्रॉम होम, गेमिंग, बिजनेस, एंटरटेनमेंट, ऑफिस यूटिलिटीज और सोशल नेटवर्किंग की श्रेणियों वाले ऐप्‍स को सरकार गाइड करने के साथ सपोर्ट करेगी |

पीएम नरेंद्र मोदी जी की नयी घोषणा

हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने भारत देश को योजना के माध्यम से और मजबूत बनाने के लिए एक नयी घोषणा की है | जिससे कोरोना वायरस की वजह से देश की जो अर्थव्यवस्था बिगड़  गयी है उन्हें सुधारा जा सके और देश के लोगो को आत्मनिर्भर बनाया जा सके | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मगलवार को भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के सालाना बैठक को संबोधित किया। इस बैठक में पीएम मोदी जी ने कहा है कि हमारी सरकार प्राइवेट सेक्टर को देश की विकास यात्रा में साझीदार मानती है भारत को फिर से तेज़ विकास के पथ पर लाने के लिए, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए 5 चीजें बहुत ज़रूरी हैं | जो हमने नीचे दी हुई है

  • इंटेंट यानी इरादा
  • इन्क्लूजन यानी समावेशन
  • इन्वेस्टमेंट यानी निवेश
  • इन्फ्रास्ट्रक्चर यानी बुनियादी ढांचा
  • इनोवेशन यानी नवोन्मेष

 3 माह में पीपीई किट की सैकड़ों करोड़ की इंडस्ट्री

पीएम ने कहा, अब तो गांव के पास ही लोकल एग्रो प्रोडक्ट्स के क्लस्टर्स के लिए ज़रूरी इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है। इसमें CII के तमाम मेंबर्स के लिए बहुत अवसर हैं।पिछले तीन महीने में ही पीपीई की करोड़ों की इंडस्ट्री भारतीय उद्यमियों ने ही खड़ी की है।प्रधानमंत्री जी का कहना है  कि देश में मेक इन इंडिया को रोजगार का बड़ा माध्यम बनाने के लिए कई प्राथमिक सेक्टर्स की पहचान की गई है। अब तक तीन सेक्टर पर काम शुरू भी हो चुका है। पीएम मोदी ने कहा, ‘जरूरत है कि देश में ऐसे उत्पाद बनें, जो मेड इन इंडिया हो और मेड फॉर द वर्ल्ड हो।आत्मनिर्भर भारत अभियान से जुड़े हितधारकों की हर जरूरत का ध्यान रखा जाएगा।

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan New Update

देश में कोरोना महामारी से लॉकडाउन के कारण नाई की दुकानें, मोची, पान की दूकानें व कपड़े धोने की दूकानें, रेहड़ी-पटरी वालों की आजीविका पर सबसे ज्‍यादा असर पड़ा है इस समस्या को ख़त्म करने के लिए प्रधानमंत्री जी के द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत एक नई योजना की घोषणा की है इस योजना का नाम है पीएम स्वनिधि योजना | इस योजना के अंतर्गत रेहड़ी पटरी वालो को सरकार द्वारा 10000 रूपये का लोन मुहैया कराया जायेगा | इस योजना के अंतर्गत ये अल्पकालिक सहायता रु 10,000 छोटे सड़क विक्रेताओं को अपना काम फिर से शुरू करने में सक्षम बनाएंगे |इस योजना के ज़रिये आत्मनिर्भर भारत अभियान को गति मिलेगी |

महत्वपूर्ण जानकारी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज

योजना का नाम आत्मनिर्भर भारत अभियान
किसके द्वारा आरंभ की गई प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
योजना का प्रकार केंद्र सरकार
लाभार्थी देश का प्रत्येक नागरिक
उद्देश्य समृद्ध और संपन्न भारत निर्माण
आरंभ की तिथि 12 मई 2020
पैकेज की धनराशि 20 लाख करोड़ रुपए
ऑफिशियल वेबसाइट https://www.pmindia.gov.in/en/

Atma Nirbhar Bharat Abhiyan (आत्मनिर्भर भारत)

आप सभी लोग जानते है कि कोरोना वायरस के कारण पूरे देश के लॉक डाउन की स्थिति चल रही है जिसका सबसे ज्यादा बुरा असर देश के सुक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्योगों , श्रमिकों ,मजदूरों और किसानो पर पड़ रहा है इन सभी नागरिको को लाभ पहुंचाने के लिए हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने देश के सुक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्योगों , श्रमिकों ,मजदूरों और किसानो को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान कर दिया | इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चुने गए इन सभी लाभार्थियों को सबसे बड़ी सहायता राशी आर्थिक पैकेज के रूप प्रदान की जाएगी |केंद्र सरकार की इस मदद से भारत देश एक नई ऊचाई की तरफ जायेगा |

एमएसएमई के तहत की गई 16-घोषणाएं

एमएसएमई के तहत की गई 16-घोषणाएं

कोविड-19 ने देश और देश दुनिया के सामने बहुत से संकट खड़े किए हैं और चुनौती के समय में देश को अग्रसारित करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा सूक्ष्म लघु मध्यम वर्गीय गृह उद्योग (MSMEs)के लिए निम्नलिखित 16 घोषणाएं की है क्या आप जानते हैं एमएसएमई जोकि 12 हजार करोड़ से ज्यादा लोगों को रोजगार उपलब्ध कराता है देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है आइए जानते हैं सरकार द्वारा कौन सी घोषणाएं की गई है

  • Rupee 3 lakh Crore Collateral free automatic loan for business including MSMEs
  • MSMEs सहित व्यापार के लिए रुपये 3 लाख करोड़ संपार्श्विक नि: शुल्क स्वचालित ऋण
आत्मनिर्भर भारत
  • Rupee 20000 Crore subordinate debt for MSMEs
  • MSMEs के लिए रु। 20000 करोड़ अधीनस्थ ऋण
आत्मनिर्भर भारत
  • Rupees 50000 crore equity infusion through MSMEs fund of funds
  • MSMEs के फंड के माध्यम से रुपए 50000 karod इक्विटी इन्फ्यूशन
आत्मनिर्भर भारत
  • MSMEs की नई परिभाषा
  • New Definition Of MSMEs
आत्मनिर्भर भारत
  • Global Tender For to be disallowed upto rs 200 crores
  •  ग्लोबल टेंडर 200 करोड़ रुपये तक का है
  • Other Interventions For MSMEs
  • एसएमई के लिए अन्य हस्तक्षेप
  • Rs 2500 Crore EPF Support For Business and Workers For 3 More Months
  • 3 और महीनों के लिए व्यापार और श्रमिकों के लिए 2500 करोड़ रुपये का ईपीएफ समर्थन
  • EPF Contribution reduced for business and workers for 3 months
  • ईपीएफ अंशदान 3 महीने के लिए व्यापार और श्रमिकों के लिए कम हो गया
  • Rs 30000 Crore Liquidity facility for NBFCS/HCs/MFIs
  • एनबीएफसीएस / एचसी / एमएफआई के लिए 30000 करोड़ रुपये की तरलता सुविधा
  • Rs 45000 Cr Partial Credit Guarantee Scheme For NBFC
  • एनबीएफसी के लिए 45000 करोड़ रुपये की आंशिक क्रेडिट गारंटी योजना
  • Rs 90000 Crore Liquidity injection for DISCOMs
  • DISCOM के लिए 90000 करोड़ रुपये की तरलता इंजेक्शन
  • Relief to Contractors
  • ठेकेदारों को राहत
आत्मनिर्भर भारत
  • Extension of registration and completion date of real estate projects under RERA
  • RERA के तहत रियल एस्टेट परियोजनाओं के पंजीकरण और पूर्णता तिथि का विस्तार
आत्मनिर्भर भारत
  • Rs 50000 cr Liquidity through TDs/TCS reduction
  • टीडीएस / टीसीएस कटौती के माध्यम से 50000 करोड़ रुपये की तरलता
आत्मनिर्भर भारत
  • Other Tax Measures
  • अन्य कर उपाय
Aatm Nirbhar Yojana
  • Other Tax Measures
  • अन्य कर उपाय
आत्मनिर्भर भारत

गरीबों श्रमिकों और किसानों के लिए की गई मुख्य घोषणा

आज दिनांक 14 मई 2020 को आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत मुख्यतः गरीब श्रमिक और किसानों के लिए घोषणा की गई है जो कि निम्न प्रकार हैं आइए जानते हैं आज क्या-क्या खास घोषणाएं की गई हैं